तिब्बि के तिए एक मीि चि

एक व्यति द्वारा धममशािा से दिल्िी िक पैिि माच

जब तपछिे साि जून के महीने में गिवान घाटी संहार घटा था, िेश के अतधकााँश नागररक इस स्थान को भारि के नक़्श पर ढू ाँढ़ ही नहीं सके . इसके अिावा वे यह भी नहीं समझ सके दक चीनी पीएिए के तसपातहयों ने हमारे जवानों की हत्या क्यों की. और सबसे पहिी बाि यह दक वे भारिीय सीमा िक घुसे कै से? बहुि शीघ्र मैं धममशािा से दिल्िी िक का पैिि माचम शुरू कर रहा हाँ. इसका मुख्य उद्देश्य है तिब्बि के तवषय पर भारि का ध्यान खींचना, जो दक भारि-चीन संकट की गुम हो चुकी महत्वपूर्म कड़ी है. हमारे भारिीय भाई-बहनों को उन कारर्ों को जानने की जरूरि है तजनकी वजह से चीन भारि को िगािार धमदकयां िेिा रहा है. यह माचम तिब्बिी नववषम िोसर क दिन यानी 12 फरवरी 2021 को शुरू होगा और तिब्बिी राष्ट्रीय क्रातति दिवस यानी 10 माचम 2021 को दिल्िी में समाप्त होगा.

यह एक व्यति द्वारा दकया जाने वािा माचम होगा तजसमें जरुरी व्यवस्थाओं और जनसंपकम के तिए िो अतय समथमक साथी साथ रहेंगे.

मेरी योजना है दक मैं 500 दकिोमीटर की इस िूरी को एक महीने में पूरा करूं. मैं हर राि सड़क दकनारे रैनबसेरों म गुजारूाँगा. मैं धममशािा से कांगड़ा घाटी से होिा हुआ ऊना के रास्िे पंजाब के मैिानों में प्रवेश करूंगा. श्री आनंिपुर सातहब में शीश नवाने के बाि मैं मोहािी, पंचकू िा और चंडीगढ़ पहुचूाँगा जहााँ से मेरा माचम करनाि, अम्बािा और सोनीपि होि हुए दिल्िी पहुंचेगा.

इस एक माह की यात्रा के िौरान मैं सड़क पर चि रहे िोगों से एक यातचका पर हस्िाक्षर करने का आग्रह करूंगा तजसम भारि सरकार से उसकी विममान भारि-चीन नीति को तनरस्ि करने का आग्रह दकया जाएगा. यह कायम ऑनिाइन भी दकया जाएगा. जहााँ एक िरफ भारि िगािार एक-चीन नीति के साथ खड़ा रहा है, चीन भारि को उस िरह नहीं िेखिा. चीन ने समूचे अरुर्ांचि प्रिेश के अिावा िद्दाख, तहमांचि, उत्तराखंड और तसदिम के तहस्सों पर अपना िावा ठोक रखा है और कश्मीर मामिे में भारि को संयुि राष्ट्र िक िे कर गया है. हमें अपने आप से सवाि करना है दक यदि चीन एक-भारि की नीति का सम्मान नहीं करिा िो भारि ने एक-चीन नीति का समथमन क्यों करना चातहए?

मैं एक वैतिक अतभयान शुरू करने जा रहा हाँ तजसके अंिगमि सभी राष्ट्राध्यक्षों से एक-चीन नीति को तनरस्ि करने, तिब्बि, पूवी िुर्कम स्िान और ितक्षर्ी मंगोतिया को चीन द्वारा कब्जाए गए िेशों की िरह मातयिा िेने, हां गकांग में िोकिंत्र का समथमन करने और िाइवान की स्विंत्रिा की मांग करने का आग्रह दकया जाएगा.

इस अतभयान को समथमन िेने की इच्छा रखने वािे िोग तिब्बि के तवषय पर िेख, कतविाएं और तचरियााँ तिख सकिे हैं, वेतबनारों का आयोजन कर सकिे हैं; गीि, नृत्य, काटूमन, स्िोगन इत्यादि का तनमामर् कर सकिे हैं; वीिॉग और ब्िॉग कर सकिे हैं, मीतडया से बाि कर सकिे हैं, सोशि मीतडया पर तिब्बि संबंधी चेिना तवषयक पोस्ट िगा सकिे हैं और इस आशय की सूचनाओं को मीतडया में शेयर और फॉरवडम कर सकिे हैं.

#तिब्बि_के _तिए_एक_मीि #WalkaMileforTibet
#वन_चाइना_पातिसी_तनरस्ि_हो #RepealOneChinaPolicy
#PRC_को_खुश_करना_बंि_करो #StopAppeasingPRC

तिब्बि के तिए एक मीि चिें. छोटी-छोटी िूररयों िक माचम के साथ चिें.
माचम फ्िैगऑफ: शुक्रवार, 12 फरवरी 2021, 10 बजे सुबह, मैकिॉडगंज मेन स्वायर, धममशािा, तहमाचि प्रिेश.
जय भारि! जय तिब्बि!
-िेनतजन सूति

िब्बिी िेखक और कायमकिा
फोन: 941807932
ईमेि : [email protected]
इस माचम को फे सबुक, इतस्टाग्राम और तववटर पर फॉिो करें .